मोनिका रॉय के कातिलों को अब तक क्यों नहीं गिरफ्तार की मालदा पुलिस

Crime Dooars News

पश्चिम बंगाल के मालदा में पिछले दिनों ससुराल वालो के अत्याचारों से तंग आकर मोनिका रॉय ने तेजाब पी लिया था,  जिससे उसकी मौत हो गई थी, वहीं इस मामले में एक एक कर कई बाते खुलकर सामने आ रही है, इस मामले में मुख्य आरोपी मोनिका का पति पहले ही पुलिस की गिरफ्त में हैं, लेकिन उसके घर के बांकी सदस्य अभी भी पुलिस की पहुंच से बाहर हैं, और इनमें सबसे ज्यादा खतरनाक है मोनीका का देवर सुकेन रॉय अभी तक जेल से बाहर है, सुकेन मोनिका के पति का छोटा भाई है जो पुलिस की नौकरी करता है, सुकेन का अब तक पुलिस की पहुंच से बाहर होना कही न कही इस केस के लिए खतरा साबित हो सकता है, सुकेन पुलिस में है जिससे संभंव है कि वो इस केस से जुड़े सबूतों और गवाहों से छेड़छाड़ कर खुद को और अपने परिवार को सजा से बचने की कोशिश करे।

#मोनिका रॉय के #कातिलों को अब तक क्यों #नहीं गिरफ्तार की #मालदा पुलिस पश्चिम बंगाल के मालदा में पिछले दिनों ससुराल वालो के अत्याचारों से तंग आकर मोनिका रॉय ने तेजाब पी लिया था, जिससे उसकी मौत हो गई थी, वहीं इस मामले में एक एक कर कई बाते खुलकर सामने आ रही है, इस मामले में मुख्य आरोपी मोनिका का पति पहले ही पुलिस की गिरफ्त में हैं, लेकिन उसके घर के बांकी सदस्य अभी भी पुलिस की पहुंच से बाहर हैं, और इनमें सबसे ज्यादा खतरनाक है मोनीका का देवर सुकेन रॉय अभी तक जेल से बाहर है, सुकेन मोनिका के पति का छोटा भाई है जो पुलिस की नौकरी करता है, सुकेन का अब तक पुलिस की पहुंच से बाहर होना कही न कही इस केस के लिए खतरा साबित हो सकता है, सुकेन पुलिस में है जिससे संभंव है कि वो इस केस से जुड़े सबूतों और गवाहों से छेड़छाड़ कर खुद को और अपने परिवार को सजा से बचने की कोशिश करे। इस मामले में मृतक मोनिका की बहन का कहना है कि मोनिका की सास और देवर अब तक पुलिस की गिरफ्त के बाहर हैं, जिससे उन्हें केस से जुड़े सबूतों और गवाहों को मिटाने का और ज्यादा मौका मिल रहा है। मोनिका के परिजनों का ये भी कहना है कि अभी तक पुलिस जांच में ये पता नहीं चल पाया है कि मोनिका ने खुद तेजाब पीया था या फिर उसे किसी ने जबरदस्ती तेजाब पीलाया था। अब पुलिस इस मामले में कब तक मोनिका के देवर और सास को गिरफ्तार कर पाती है ये तो आने वाला वक्त ही बातएंगा, बहराल उम्मीद ये ही की जा सकती है कि मोनिका को जल्द से जल्द इंसाफ मिले ताकि फिर कोई पति अपनी पत्नी के साथ इस तरह के अत्याचार करने से लाख बार सोचे। वहीं सवाल ये भी है कि पुलिस अभी तक इन दोनों आरोपियो तक क्यों नहीं पहुंच पायी, क्या ये सब पुलिस के ढीले रवैये की वजह से हो रहा है या फिर आरोपी पुलिस को लगातर चकमा दे रहे हैं।

Posted by Dooars Khabar on Friday, September 22, 2017

इस मामले में मृतक मोनिका की बहन का कहना है कि मोनिका की सास और देवर अब तक पुलिस की गिरफ्त के बाहर हैं, जिससे उन्हें केस से जुड़े सबूतों और गवाहों को मिटाने का और ज्यादा मौका मिल रहा है। मोनिका के परिजनों का ये भी कहना है कि अभी तक पुलिस जांच में ये पता नहीं चल पाया है कि मोनिका ने खुद तेजाब पीया था या फिर उसे किसी ने जबरदस्ती तेजाब पीलाया था। अब पुलिस इस मामले में कब तक मोनिका के देवर और सास को गिरफ्तार कर पाती है ये तो आने वाला वक्त ही बातएंगा, बहराल उम्मीद ये ही की जा सकती  है कि मोनिका को जल्द से जल्द इंसाफ मिले ताकि फिर कोई पति अपनी पत्नी के साथ इस तरह के अत्याचार करने से लाख बार सोचे। वहीं सवाल ये भी है कि पुलिस अभी तक इन दोनों आरोपियो तक क्यों नहीं पहुंच पायी, क्या ये सब पुलिस के ढीले रवैये की वजह से हो रहा है या फिर आरोपी पुलिस को लगातर चकमा दे रहे हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *