बीजेपी ने बिहार में 2019 के लिए किस पर किया भरोसा ..

News Politics

बिहार के डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने कहा है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार उनके बड़े भाई हैं. इसका मतलब ये है कि बिहार में गठबंधन में जेडीयू का रोल बड़ा होगा, उन्होंने कहा कि बिहार के लोग बीजेपी-जेडीयू और एलजेपी का गठबंधन चाहते हैं.सुशील मोदी ने सोमवार को पटना में कहा कि देश के पीएम नरेंद्र मोदी हैं, लेकिन बिहार के नेता तो नीतीश कुमार हैं. इसलिए बिहार में जो वोट मिलेगा वो नरेंद्र मोदी के नाम पर और नीतीश कुमार के काम और नाम पर, इसमें कोई विरोधाभास नहीं है. सुशील कुमार की मानें तो दोनों पार्टियों के बीच कोई विवाद नहीं है.

लोकसभा चुनाव में सीट बंटवारे के सवाल पर सुशील मोदी ने कहा, ‘जब दिल मिल गया है तो सीट कौन-सी बड़ी चीज है. हर चुनाव के अंदर कौन कितना लड़ेगा, जिस दिन साथ बैठेंगे सारी चीजों का ऐलान हो जाएगा.’ इससे पहले रविवार को जेडीयू के अधिवेशन में एक प्रस्ताव पास किया गया जिसमें कहा गया कि एनडीए में नरेंद्र मोदी और नीतीश दो चेहरे हैं. मोदी राष्ट्रीय राजनीति में तो नीतीश बिहार में.

 

आपको बता दे कि एनडीए की इस हफ्ते के अंत में होनी वाली बैठक से पहले रविवार को पटना में जदयू कोर कमेटी की बैठक हुई. इस बैठक के बाद जदयू ने बताया था कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बिहार में एनडीए का चेहरा होंगे. नीतीश कुमार जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष भी हैं और कोर कमेटी की बैठक उनके आवास पर हुई. जेडीयू की इस बैठक में शामिल होने के लिए राष्ट्रीय महासचिव के सी त्यागी और पवन वर्मा नई दिल्ली से पटना पहुंचे. यही नहीं, इस बैठक में चुनाव रणनीतिकार प्रशांत किशोर और राज्य के कुछ अन्य नेताओं ने हिस्सा लिया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *